देश

Webstory: फर्जी प्रोफाइल बनाकर मैंने अपने देवर के साथ संबंध बनाने पर बात की, जहाँ मुझे कुछ भी गलत नहीं लगा

 

Webstory : शादी से पहले मुझे विश्वास था कि मैं उससे प्यार करना सीख सकती हूं और मैंने किया भी, लेकिन वह अभी तक मुझसे प्यार नहीं कर पाया है। मैं हमेशा उसके प्यार के लिए तरसता रहती हूं। मैं जब भी उससे बात करने की कोशिश करती हूं, वह काम में व्यस्त होने की शिकायत करता है।

उसके पास मेरे साथ वक्त बिताने के लिए बिल्कुल भी समय नहीं है। वह मुझ पर ज्यादा ध्यान नहीं देता। सच कहूं तो मैंने अपने जीवन में इतना अकेलापन शादी से पहले कभी महसूस नहीं किया था। (सभी तस्वीरें सांकेतिक हैं, हम यूजर्स द्वारा शेयर की गई स्टोरी में उनकी पहचान गुप्त रखते हैं। वहीं इस कहानी में असली नामों को भी छिपा दिया गया है। इस्तेमाल किए गए नाम पूरी तरह से नकली हैं)

विशाल के साथ चीजें बेहतर नहीं हो पाने की वजह से मैं अपना सारा समय अपनी सास के साथ बिताने लगी। सौभाग्य से, वह एक बहुत ही प्यारी और देखभाल करने वाली महिला हैं। वह भी मुझसे बात करना पसंद करती हैं।

उनके साथ मेरा समय अच्छे से कट जाता है। लेकिन जब रात आती है, तो मुझे भी लगता है कि दूसरी महिलाओं की तरह मैं भी अपने पति के साथ रोमांटिक पल बिताऊं, लेकिन मेरी किस्मत में ऐसा नहीं था।

हमारी शादी को एक साल ही हुआ है। ऐसे में हम कुछ ही बार इंटिमेट हुए हैं, वो भी उसके मूड के हिसाब से। मेरी जरूरतों और चाहतों की उसने कभी परवाह नहीं की थी।

ऋषभ को देखकर मुझे अजीब महसूस हुआ

मैं अपनी शादी में बहुत ही कमजोर महसूस कर ही रही थी कि इस बीच विशाल का छोटा भाई ऋषभ न्यूजीलैंड से अपनी नौकरी छोड़कर भारत वापस आ गया। मैं उससे पहली बार मिल रही थी। मैंने उसे शादी में नहीं देखा था।

ऐसा इसलिए क्योंकि उसे उस समय वापिस आने के लिए वीजा नहीं मिला था। ऐसे में जब वह वापस आया तो मैं उसे देखकर पूरी तरह दंग रह गई। ऐसा इसलिए क्योंकि ऋषभ देखने में बहुत ही हैंडसम है। उसके पास न केवल अच्छी खासी हाइट है बल्कि उसकी आवाज भी बहुत ही अद्भुत है।

उसके साथ बातचीत करने के बाद मेरे दिमाग में जो पहला विचार आया वह यह कि वो लड़की कितनी भाग्यशाली होगी, जिसे अपने पति के रूप में ऋषभ मिलेगा। ऐसा इसलिए भी क्योंकि उसका नेचर बहुत ही कमाल का था। वह न केवल सबकी देखभाल करता था बल्कि उसकी इस अदा पर मैं भी उस पर मरने लगी थी।

ऋषभ इतना हैंडसम था कि मेरा ध्यान उस पर से हट ही नहीं रहा था। मैं नहीं जानती कि मुझे क्या हो रहा है, लेकिन धीरे-धीरे मैं उसके प्यार में पड़ गई। यह सब मेरे साथ इसलिए भी हो रहा था क्योंकि मेरा पति मुझ पर बिल्कुल भी ध्यान नहीं देता था।

मैंने ऋषभ के साथ नजदीकियां बढ़ानी शुरू कर दी थी। मैंने उसे हर दिन खाना देना शुरू किया। मैंने उससे, न्यूजीलैंड में उसके जीवन के बारे में बात करना भी शुरू किया। इसी बीच एक दिन मैंने उसे डेटिंग ऐप पर लड़कियों की जांच करते देखा। वह चुपके से लड़कियों की प्रोफाइल चेक कर रहा था।

मैं नहीं जानती कि मुझे एकदम से क्या हुआ, लेकिन उसी रात मैंने उसी डेटिंग ऐप को डाउनलोड किया, जिसका इस्तेमाल ऋषभ करता था और अपनी एक नकली प्रोफाइल बनाई। मैंने सूर्यास्त की ओर फेस करते हुए अपनी एक बहुत ही सुंदर तस्वीर लगाई ताकि वह मेरा चेहरा न देख सके। यही नहीं, जैसे ही मैंने एक दिलचस्प बायो ऐड किया वह मुझसे कनेक्ट हो गया। हम दोनों आपस में बहुत सारी बातें करने लगे।

प्यार भरी बातें करने के मामले में ऋषभ भी बहुत ज्यादा रोमांटिक था। वह मेरी दूसरी तस्वीरें भी देखना चाहता था, लेकिन मैंने यह कहते हुए देरी कि थोड़ा रहस्य बनाए रखना भी रिश्ते के लिए बेहतर है। मैंने उनसे यह भी पूछा कि क्या हम केवल वर्तमान पर अपना ध्यान केंद्रित कर सकते हैं? हम दोनों हर पल में रोमांटिक महसूस कर सकते हैं। वह इसमें राजी हो गया। धीरे-धीरे हम दोनों एक-दूसरे से फ्लर्ट करने लगे। हमने एक-दूसरे से सेक्स के बारे में भी बात की। इसमें मुझे कुछ भी गलत नहीं लगा।

शायद ऐसा क्योंकि मैं उसके साथ हर पल का बहुत ही ज्यादा आनंद ले रही थी। हालांकि, कहीं न कहीं मैं जानती थी कि यह सब बहुत गलत था, लेकिन मैं खुद को रोक नहीं सकी।

मैं बहुत ही डर गई थी

कुछी हफ्तों में हम दोनों के एक-दूसरे के बहुत करीब आ गए। हम दोनों एक-दूसरे से जुड़ने लगे थे। इसी बीच ऋषभ ने मुझसे मिलने को लेकर जिद करनी शुरू कर दी। वह मुझसे मिलना चाहता था, लेकिन मेरे लिए यह किसी भी तरह से संभव नहीं था।

लेकिन एक दिन जब मैं उससे बात कर ही रही थी तभी अचानक से ऋषभ मेरे कमरे में आया और मुझसे हमारी स्थिति के बारे में सलाह मांगने लगा। उसने मुझे कहा कि वह एक लड़की को चाहता है, जोकि मैं थी, वह उसके साथ कैसे आगे बढ़ सकता है।

पहले तो मुझे आश्चर्य हुआ कि वह मुझसे सलाह मांगने क्यों आया है। लेकिन मैंने उसे सामान्य सुझाव देते हुए अपने कमरे से बाहर भेज दिया। उसकी इस हरकत ने मुझे इतना डरा दिया कि मैंने संदेह से बचने के लिए कुछ ही दिनों में अपनी प्रोफाइल को हटा दिया। शायद ऐसा मैंने इसलिए भी किया क्योंकि मैं इस तरह के गंदे रहस्य और झूठ के साथ पकड़ी नहीं जा सकती थी। मैं अपने परिवार का नाम खराब नहीं करना चाहती थी।

28 Comments

Back to top button
%d bloggers like this: