ताजा खबरे

नियम फिर बदलें, देखें नियम

Sukanya Samriddhi Yojana [ New Rules ] : अगर आप अपनी बेटी की शिक्षा और शादी के लिए और पैसा जोड़ना चाहते हैं। तो सुकन्या समृद्धि योजना ( Sukanya Samriddhi Yojana )एक अच्छा विकल्प है । सुकन्या समृद्धि खाता ( Sukanya Samriddhi Account ) में पैसा लगाने से आप अपनी बेटी की उच्च शिक्षा और शादी के बारे में सुनिश्चित होंगे। इसके लिए आपको सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश करना होगा। इस SSY योजना के लिए सुकन्या समृद्धि योजना के तहत 10 साल से कम उम्र की बेटी का खाता खोला जा सकता है ।

Sukanya Samriddhi Yojana [ New Rules ]

सुकन्या समृद्धि योजना ( Sukanya Samriddhi Yojana ) के तहत खाता किसी भी डाकघर या वाणिज्यिक शाखा की किसी भी अधिकृत शाखा में खोला जा सकता है। और सुकन्या समृद्धि खाता ( Sukanya Samriddhi Account ) खोलने के बाद, इसे तब तक जारी रखा जा सकता है जब तक कि बालिका 21 वर्ष की आयु प्राप्त नहीं कर लेती या 18 वर्ष की आयु के बाद उसकी शादी नहीं हो जाती।

Sukanya Samriddhi Yojana में खाता कैसे खोलें

सुकन्या समृद्धि योजना ( Sukanya Samriddhi Yojana ) के तहत खाता 10 साल की उम्र से पहले बच्चे के जन्म के बाद न्यूनतम 250 रुपये जमा करके खोला जा सकता है। चालू वित्त वर्ष में सुकन्या समृद्धि खाता ( Sukanya Samriddhi Account ) के तहत सालाना अधिकतम एक लाख पचास हजार रुपये जमा किए जा सकते हैं। फिलहाल इस पर 7.6 फीसदी ब्याज मिल रहा है। इसमें आप अपनी दोनों बेटियों के लिए खाता खुलवा सकते हैं। बेटियां 21 साल की उम्र में इस खाते से पैसे निकाल सकती हैं। इस SSY योजना में राशि 9 साल 4 महीने में दोगुनी हो जाएगी।

15 लाख रुपये की राशि मैच्योरिटी पर मिलेगी

अगर आप इस सुकन्या समृद्धि योजना ( Sukanya Samriddhi Yojana ) में हर महीने 3000 रुपये यानि 100 रुपये प्रतिदिन का निवेश करते हैं तो 14 साल बाद आपको सुकन्या समृद्धि खाता ( Sukanya Samriddhi Account ) में 7.6 फीसदी सालाना कंपाउंडिंग पर 36000 रुपये की दर से 9,11,574 रुपये मिलेंगे. 21 साल यानी मैच्योरिटी पर यह रकम करीब 15,22,221 रुपये होगी। अगर आप एक दिन में 416 रुपये बचाते हैं तो आप अपनी बेटी के लिए 65 लाख रुपये का फंड बना सकते हैं।

Sukanya Samriddhi Yojana [ New Rules ]

सुकन्या समृद्धि योजना ( Sukanya Samriddhi Yojana ) के नए नियमों के तहत खाते में गलत ब्याज वापस करने का प्रावधान हटा दिया गया है. इसके अलावा, प्रत्येक वित्तीय वर्ष के अंत में वार्षिक ब्याज खाते में जमा किया जाएगा। पहले इसे तिमाही आधार पर सुकन्या समृद्धि खाता ( Sukanya Samriddhi Account ) में जमा किया जाता था।

नियम के तहत बेटी 10 साल में चला सकती है Sukanya Samriddhi Account

पहले के नियमों के तहत बेटी 10 साल में सुकन्या समृद्धि खाता ( Sukanya Samriddhi Account ) का संचालन कर सकती थी। लेकिन सुकन्या समृद्धि योजना ( Sukanya Samriddhi Yojana ) के नए नियमों में इसमें बदलाव किया गया है। अब बेटियों को 18 वर्ष की आयु से पहले SSY खाता संचालित करने की अनुमति नहीं है। 18 वर्ष की आयु तक केवल अभिभावक ही खाते का संचालन करेगा।

सुकन्या समृद्धि योजना ( Sukanya Samriddhi Yojana ) के खाते में न्यूनतम 250 रुपये और अधिकतम 1.5 लाख रुपये सालाना जमा करने का प्रावधान है। न्यूनतम राशि जमा नहीं करने पर सुकन्या समृद्धि खाता ( Sukanya Samriddhi Account ) डिफॉल्ट हो जाता है ।  नए नियमों के मुताबिक अगर खाता दोबारा सक्रिय नहीं किया गया तो SSY खाते में जमा राशि पर मैच्योरिटी तक लागू दर पर ब्याज मिलता रहेगा , पहले ऐसा नहीं था।

तीसरी बेटी के जन्म पर भी खुलवा सकते हैं Sukanya Samriddhi Yojana खाता

पहले 80सी के तहत टैक्स छूट का फायदा सिर्फ दो बेटियों के SSY  खाते पर ही मिलता था। लेकिन अब सुकन्या समृद्धि खाता ( Sukanya Samriddhi Account ) तीसरी बेटी के जन्म पर भी खोला जा सकता है। दरअसल, अब पहली बेटी के बाद पैदा हुई दो जुड़वां बेटियों के लिए खाता खोलने का प्रावधान है. इस तरह एक व्यक्ति तीन बेटियों के लिए सुकन्या समृद्धि योजना ( Sukanya Samriddhi Yojana ) खाता खुलवा सकता है।

PM-Kisan Yojana Beneficiary [ New List ] : इस लिस्ट में किसान चेक कर लें नाम , तभी मिलेगी किस्त

Back to top button
%d bloggers like this: