ताजा खबरे

इस योजना के तहत सोलर पैनल खरीदने पर 90% की

PM Solar Panel Yojana इस योजना के तहत सोलर पैनल खरीदने पर 90% की सब्सिडी, यहाँ देखे पूरी जानकारी : केंद्रीय नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (MNRE) ने पिछले साल सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान महाभियान (PM Kusum Yojana) योजना शुरू की थी। इस योजना (PM Free Solar panel Yojana) का लक्ष्य 2022 तक 25,750 मेगावाट की सौर और अन्य नवीकरणीय क्षमता को कुल केंद्रीय वित्तीय सहायता के साथ जोड़ना है।

PM Solar Panel Yojana : इस योजना के तहत सोलर पैनल खरीदने पर 90% की सब्सिडी, यहाँ देखे पूरी जानकारी

 

34,422 करोड़।सभी आवेदक जो ऑनलाइन आवेदन करने के इच्छुक हैं, फिर आधिकारिक अधिसूचना डाउनलोड करें और सभी पात्रता मानदंड और आवेदन प्रक्रिया को ध्यान से पढ़ें। हम “प्रधान मंत्री सौर पैनल योजना 2022 (Pradhan Mantri Solar Panel Yojana) के बारे में संक्षिप्त जानकारी प्रदान करेंगे जैसे योजना लाभ, पात्रता मानदंड, योजना की मुख्य विशेषताएं, आवेदन की स्थिति, आवेदन प्रक्रिया और बहुत कुछ।

प्रधानमंत्री सौर पैनल योजना ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया

केंद्र सरकार ने किसानों (Farmers) के लिए किसान ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान महाभियान – कुसुम योजना की (PM kusum Yojana) घोषणा की है। इसके बाद, सरकार। अपनी बंजर जमीन पर पीएफ सोलर पावर प्लांट ( PF Solar Power Plant

) लगाने पर सब्सिडी (Subsidy) देगी। सभी पात्र आवेदक जो इस योजना (PM Free solar Panel Scheme) को लागू करना चाहते हैं, तो सभी निर्देशों को ध्यान से पढ़ें और ऑनलाइन आवेदन पत्र को लागू करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें !

लाभार्थी लाभ

PM KUSUM SCHEME में सोलर पंप (Solar Pump) लगाने के लिए 70 फीसदी सरकारी सब्सिडी (Subsidy) की पेशकश की गई है। – पीआईबी कैबिनेट ने किसान ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान महाभियान शुरू करने की मंजूरी दी। – पीआईबी कुसुम योजना 2022 (Kusum Yojana) तक किसानों (Farmers) की आय को दोगुना करने के लिए कृषि पंप सेटों को सोलराइज करेगी।

प्रधानमंत्री सौर पैनल योजना (Pradhan Mantri solar panel Yojana) उन किसानों (farmer) को अतिरिक्त आय प्रदान करेगी जो अपनी भूमि पर सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करेंगे यह योजना 6000 रुपये प्रति माह तक हस्तांतरित की जाएगी। सोलर प्लांट के तहत किसान आसानी से सब्जी, दाल आदि उगा सकता है।

योजना का उद्देश्य

सरकार एक योजना ‘किसान ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान महाभियान’ (PM Kusum Yojana) तैयार कर रही है, जिसका उद्देश्य अन्य बातों के साथ-साथ किसानों (Farmers) के बीच सौर ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देना है। कुसुम योजना (Kusum Yojana) की मदद से किसान (farmer) अपनी जमीन पर सोलर पैनल लगा सकते हैं और उससे उत्पन्न बिजली का इस्तेमाल खेती के लिए कर सकते हैं. किसान की जमीन पर पैदा होने वाली बिजली से देश के गांव में निर्बाध बिजली आपूर्ति शुरू की जा सकती है !

प्रधानमंत्री सौर पैनल योजना बजट 2022

माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी (Pradhan Mantri Narendra Modi) की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने किसानों (farmers) को वित्तीय और जल सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से किसान ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान महाभियान (KUSUM) के शुभारंभ को मंजूरी दे दी है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने शनिवार 1 फरवरी 2020 को प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना (Pradhan Mantri solar panel Yojana) के विस्तार की घोषणा की। सरकार ने इस योजना (PM solar panel Yojana) के तहत एक और बड़ी घोषणा की है कि सरकार सोलर पंप की कुल लागत का 60% सब्सिडी के रूप में देगी।

कुसुम योजना (Kusum Yojana) के तहत 2022 तक देश में बिजली या डीजल की जगह सौर ऊर्जा से तीन करोड़ सिंचाई पंप चलाए जा रहे हैं. सरकार द्वारा निर्धारित बजट के अनुसार कुसुम योजना (Kusum Yojana) पर कुल 1.40 लाख करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। इस योजना (PM solar Panel scheme) में प्रत्यक्ष रोजगार की संभावना है। स्वरोजगार बढ़ाने के अलावा, प्रस्ताव से कुशल और अकुशल श्रमिकों के लिए 6.31 लाख नौकरी के वर्षों के बराबर रोजगार के अवसर पैदा होने की संभावना है।

योजना की विशेषताएं

केंद्रीय बजट 2018-19 में इसकी घोषणा की गई थी। सोलर पावर इक्विपमेंट लगाने के लिए किसानों (Farmers) को सिर्फ 10 फीसदी का भुगतान करना होगा। केंद्र सरकार किसानों को बैंक खाते में सब्सिडी राशि देगी। बंजर भूमि पर सौर ऊर्जा के संयंत्र लगाए जाएंगे।

कुसुम योजना (KUSUM Yojana) के तहत, बैंक किसानों को 30% राशि ऋण के रूप में देंगे। सरकार सोलर पंप की कुल लागत का 60% किसानों को सब्सिडी के रूप में देगी। आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने किसानों को वित्तीय और जल सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से किसान ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान महाभियान (कुसुम) योजना शुरू करने को मंजूरी दे दी है।

किसान अपनी बंजर भूमि पर सौर ऊर्जा परियोजनाएं स्थापित कर सकते हैं और उत्पन्न ऊर्जा का उपयोग कर सकते हैं। इसके अलावा, किसान (farmer) अतिरिक्त आय उत्पन्न करने के लिए ग्रिड सेटअप के माध्यम से DISCOMS को अतिरिक्त ऊर्जा भी बेच सकते हैं। केंद्र सरकार ने दस साल की अवधि के लिए कुसुम योजना के लिए 48000 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं। यह योजना (PM Solar Panel yojana) बंजर भूमि पर 10,000 मेगावाट के सौर संयंत्र के निर्माण और 1.75 मिलियन ऑफ-ग्रिड कृषि सौर पंप प्रदान करने के साथ शुरू होगी।

यह भी जानें :- 

PM Kisan Yojana Beneficiary [ List ] : 12वीं किस्त की लाभार्थी सूची जारी, अभी चेक करें अपना नाम

e-SHRAM Card Payment New List : इन श्रमिकों के खातें में आएँ 1-1 हज़ार, ऐसे चेक करें पूरी सूची

pmaymis.gov.in PM Awas Yojana Form : आवास योजना में ऑनलाइन आवेदन शुरू, इन लोगों को मिलेगा लाभ

Back to top button
%d bloggers like this: