देश

Ashneer Grover ने की नई कंपनी की शुरुआत, जानिए क्या है उनके नए स्टार्टअप का नाम

अशनीर ग्रोवर ने 14 जून को अपने नए वेंचर के बारे में एक ट्वीट के जरिए संकेत दिया था, “मैं आज 40 साल का हो गया. कुछ लोग कहेंगे कि मैंने पूरी जिंदगी जी ली है और कई तरह की चीजों को एक्सपीरियंस किया है…एक अन्य सेक्टर में बड़ा बदलाव लाने का समय आ गया है. अब Third Unicorn का समय आ गया है.”

 
Ashneer Grover

अशनीर ग्रोवर ने की है नई कंपनी की शुरुआत
नई दिल्लीः विवादों के बीच BharatPe से एग्जिट होने के बाद Ashneer Grover और उनकी पत्नी माधुरी जैन ने नई कंपनी थर्ड यूनिकॉर्न (Third Unicorn) की शुरुआत की है. मिनिस्ट्री ऑफ कॉरपोरेट अफेयर्स की फाइलिंग्स से इस बात की जानकारी मिली है. BharatPe के पूर्व मैनेजिंग डायरेक्टर और को-फाउंडर ग्रोवर ने अपनी पत्नी के साथ मिलकर छह जुलाई को कंपनी की स्थापना की. ग्रोवर दंपति के अलावा कंपनी में कोई और डायरेक्टर नहीं है.


जानिए कितनी पूंजी के साथ हुई है कंपनी की शुरुआत

ऐसा बताया जा रहा है कि कंपनी की शुरुआत 20 लाख रुपये के अथॉराइज्ड कैपिटल और 10 लाख रुपये के पेड-अप कैपिटल के साथ हुई है. हालांकि, अभी तक यह स्पष्ट नहीं कि यह कंपनी किस सेक्टर में ऑपरेट करेगी. MCA के पार फाइल किए गए मेमोरेंडम ऑफ एसोसिएशन ने इस बात की ओर इशारा किया है कि यह टेक-इनेबल्ड कंपनी होगी.

अशनीर ग्रोवर ने 14 जून को अपने नए वेंचर के बारे में एक ट्वीट के जरिए संकेत दिया था, “मैं आज 40 साल का हो गया. कुछ लोग कहेंगे कि मैंने पूरी जिंदगी जी ली है और कई तरह की चीजों को एक्सपीरियंस किया है. कई पीढियों के लिए मैंने वैल्यू क्रिएट किया है. मेरे लिए यह बिजनेस अभी खत्म नहीं हुआ है. एक अन्य सेक्टर में बड़ा बदलाव लाने का समय आ गया है. अब Third Unicorn का समय आ गया है.”

BharatPe विवाद से रहे चर्चा में
कंपनी के फंड्स से जुड़ी अनियमितता की वजह से ग्रोवर दंपति के BharatPe से एग्जिट के बाद से ही इस बात की चर्चाएं रही हैं कि ग्रोवर कुछ नया शुरू करने वाले हैं.

ग्रोवर ने अपमानजनक बर्ताव और बदनाम किए जाने का आरोप लगाते हुए इस साल मार्च में फिनटेक स्टार्टअप छोड़ दिया था. ग्रोवर और जैन दोनों ने कहा था कि BharatPe से उन्हें हटाया जाना अनुचित था और उन्होंने इसके लिए कंपनी के सीईओ सुहैल समीर और चेयरमैन रजनीश कुमार पर तमाम आरोप लगाए थे.

ग्रोवर ने एक मार्च को अपना इस्तीफा देने के बाद ETtech के साथ एक खास साक्षात्कार में कहा था, “मैं BharatPe का सबसे बड़ा एकल शेयरधारक हूं. मैंने कंपनी और कर्मचारियों के लिए इस्तीफा दे दिया है और अगर मैं अलग नहीं होता तो ये गलत होता क्योंकि मेरी हिस्सेदारी की एक वैल्यू है.”

Back to top button
%d bloggers like this: