Finance

Aadhaar Card: बच्चों का आधार कार्ड कैसे बनता है, ये जरूरी क्यों है, इसके लिए किन-किन डॉक्यूमेंट्स की जरूरत पड़ती है

Baal Aadhaar: आज के इस दौर में आधार कार्ड (Aadhaar Card) सिर्फ बड़ों के लिए ही नहीं बल्कि बच्चों के लिए भी एक अहम और जरूरी दस्तावेज बन गया है. जिस तरह आधार कार्ड के बिना हमारे कई जरूरी काम अधूरे रह जाते हैं ठीक उसी तरह बच्चों से जुड़े कई जरूरी काम भी आधार कार्ड के बिना पूरे नहीं हो पाते. अगर आपके बच्चे के पास आधार कार्ड नहीं है तो आपका बच्चा किसी भी सरकारी योजना का लाभ नहीं उठा सकता है. इसके अलावा स्कूल में एडमिशन के लिए भी बच्चों के पास आधार कार्ड होना बहुत जरूरी होता है. बच्चों के लिए आधार कार्ड के महत्व और जरूरत को देखते हुए UIDAI नवजात बच्चों के लिए भी आधार कार्ड जारी करता है. यहां हम आपको बताएंगे कि आप अपने बच्चे का आधार कार्ड कैसे बनवा सकते हैं और इसके लिए आपको किन-किन डॉक्यूमेंट्स की जरूरत पड़ेगी.

आधार केंद्र या आंगनवाड़ी में भी बनवाया जा सकता है बच्चे का आधार
देश के कई अस्पतालों में बच्चे के पैदा होते ही उसका आधार कार्ड बनाने की सुविधा उपलब्ध है. इसके अलावा आप अपने बच्चे का आधार कार्ड अपने नजदीकी आधार केंद्र या आंगनवाड़ी में भी बनवा सकते हैं. बच्चे का आधार बनवाने के लिए आपको आधार एनरॉलमेंट फॉर्म भरना होगा, जिसमें आपको बच्चे से जुड़ी जरूरी डिटेल्स दर्ज करनी होगी. फॉर्म के साथ आपको कुछ जरूरी दस्तावेजों की फोटो कॉपी भी लगानी होगी.

बच्चे का आधार बनवाने का क्या है प्रोसेस
फॉर्म भरने के बाद काउंटर पर बैठे कर्मचारी को फॉर्म दे दें. जिसके बाद कर्मचारी आपके बच्चे के आधार कार्ड के लिए एनरॉलमेंट की प्रक्रिया शुरू करेंगे. जिसके बाद आधार कर्मचारी आपके बच्चे का नाम, पिता का नाम, घर का पता, जन्म तिथि, लिंग आदि भरने के बाद उसकी तस्वीर लेंगे. ये सारी प्रक्रिया पूरी होने के बाद आपको एक एकनॉलेजमेंट स्लिप दी जाएगी. इस स्लिप को संभालकर रखें क्योंकि इस पर लिखे एनरॉलमेंट नंबर से आप ऑनलाइन स्टेटस का पता लगाकर अपने का आधार कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं.

बाल आधार के लिए किन डॉक्यूमेंट्स की पड़ेगी जरूरत
बच्चे का आधार कार्ड बनवाने के लिए किसी खास डॉक्यूमेंट की जरूरत नहीं पड़ती है. बच्चे का आधार बनवाने के लिए उसका जन्म प्रमाण पत्र या अस्पताल से डिस्चार्ज पेपर की जरूरत पड़ती है. इसके साथ ही बच्चे के माता या पिता में से किसी एक के आधार कार्ड की भी जरूरत पड़ती है. बताते चलें कि 5 साल के कम उम्र के बच्चों के आधार कार्ड को बाल आधार कहा जाता है और ये हल्के नीले रंग का होता है.

Back to top button
%d bloggers like this: